Pages

Subscribe:

Thursday, November 26, 2020

पितृत्व अवकाश

  - अंजलि सिन्हा



भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली द्वारा आस्ट्रेलिया के साथ क्रिकेट श्रृंखला  के दौरान उठाए एक अलग कदम से एक कम चर्चित मुददा सूर्खियों में आया है। मालूम हो कि उनकी पत्नी - सिनेतारिका अनुष्का शर्मा जो इन दिनों गर्भवती हैं - उनके लिए उन्होंने पितृत्व अवकाश की मांग की तथा इसे इस श्रृंखला के दौरान स्वीकारा भी गया है।

ध्यान रहे मातृत्व अवकाश की तरह जो पिता बननेवाले हैं उन्हें पितृत्व अवकाश मिले इसकी बात काफी समय से चलती रही है, लेकिन हमारे जैसे पितृसत्तात्मक समाज में ज्यादा जोर नहीं पकड़ पाया है जहां पिता अपनी जिम्मेदारी नहीं समझते हैं। 

आज के दौर में जब बतौर श्रमिक और कर्मचारी का दर्जा पाना ही खतरे में है यानि स्थायी नौकरियां समाप्त की जा रही हैं इस नवउदारवादी दौर में जब कर्मचारी सुविधा की बात करना बेमानी हो जाता है, ऐसे में फिर यह मांग भी और पृष्ठभूमि में चली गयी है।

Saturday, November 21, 2020

Report- Stree Mukti Sangathan's 21st Workshop, 2-4 October, 2020


Stree Mukti Sangathan has organised it 21th workshop from 2nd October to 4th October. As we know Sangathan holds annual residential workshop in which various we discuss various issues concerning women and society at large. Due to Covid, this time the workshop was held through virtual mode. In the three days long workshop, we covered issues ranging from feminist politics in contemporary times to the politics associated with social media.  Workshop provided a free, gender- neutral space for both expression and discussion about issues permeating boundaries of personal-political life. Members from different corners of the country joined the workshop, and enriched the discussion through their participation.

Along with sessions, various activities were conducted which focused on and highlighted the problematic deep rooted gender based discrimination through a variety of research based presentation and experience based cultural activities.

Sessions taken by scholars working in the field of women development through various academic, political and cultural initiatives contributed in creating a feminist foundational understanding during the workshop.

Thursday, November 5, 2020

पुस्तक परिचय: भक्ति और जन: सत्ताविमर्श और प्राचीन भारत के जनसमुदायों का संस्कृतीकरण लेखक - डॉ सेवा सिंह : पुस्तक परिचय - अंजलि सिन्हा


भक्ति आन्दोलन के प्रति समग्र आलोचनात्मक रवैया रखने वाली किताबों- रचनाओं की काफी कमी दिखती है।

प्रो सेवा सिंह की किताब ‘भक्ति और जन - सत्ताविमर्श और प्राचीन भारत के जनसमुदायों का संस्कृतीकरण ’ / प्रकाशन वर्ष 2005/ ने इस मामले में एक नयी राह दिखाती है।  ध्यान रहे कि उपरोक्त किताब के बाद आयी उनकी दो अन्य पुस्तकों ‘ब्राहमणवाद और जनविमर्श’ / प्रकाशन वर्ष 2012/ और ‘भक्ति और भक्ति आन्दोलन’ / प्रकाशन: 2017/ के माध्यम से भी उन्होंने इस विषय पर अपने विमर्श को आगे बढ़ाया है।